Saturday, April 16, 2011

ऐ दुनियां के हिन्दू जागो

ऐ दुनियां के हिन्दू जागो,
अब वक्त नहीं है सोने का |
हम बहुत सह चुके ज़ुल्मो-सितम,
अब समय नहीं चुप रहने का||
इस देश का हिन्दू ह़ी हर-पल,
था जीता रहा औरों के लिए|
इतिहास गवाही देता है,
वह क्षमाशील था सबके लिए||
मुस्लिम और सिख, ईसाई को,
रखा हमने भाई की तरह|
वो आस्तीन के सांप हमें,
डसते ह़ी रहे नागों की तरह||
कभी देश की आज़ादी के लिए,
था प्राणों का बलिदान किया|
अब देश धर्म खतरे में है,
क्यों अब तक हमने सहन किया?
खुद धर्म आवाहन करता है,
बढ़कर आगे संकल्प करो|
यह हिद राष्ट्र हिन्दू का है,
बाकी को चकनाचूर करो||

1 comment:

हल्ला बोल said...

ब्लॉग जगत में पहली बार एक ऐसा सामुदायिक ब्लॉग जो भारत के स्वाभिमान और हिन्दू स्वाभिमान को संकल्पित है, जो देशभक्त मुसलमानों का सम्मान करता है, पर बाबर और लादेन द्वारा रचित इस्लाम की हिंसा का खुलकर विरोध करता है. जो धर्मनिरपेक्षता के नाम पर कायरता दिखाने वाले हिन्दुओ का भी विरोध करता है.
इस ब्लॉग पर आने से हिंदुत्व का विरोध करने वाले कट्टर मुसलमान और धर्मनिरपेक्ष { कायर} हिन्दू भी परहेज करे.
समय मिले तो इस ब्लॉग को देखकर अपने विचार अवश्य दे
देशभक्त हिन्दू ब्लोगरो का पहला साझा मंच - हल्ला बोल
हल्ला बोल के नियम व् शर्तें